मनोरंजन

कन्टेन्ट को ही किंग मानने वाले फोटोग्राफर वरुण चौहान के सफर पर एक नज़र

08 Dec, 2018 02:34 PM

वरुण चौहान एक मशहूर फैशन फोटोग्राफर हैं, जो विभिन्न ऐड के लिए भी काम करते रहते हैं। एक फोटोग्राफर के रूप में काम करने के साथ, वरुण ने एक ऐड फ़िल्म निर्देशक के रूप में भी काम किया है। वह अपनी विज्ञापन फोटोग्राफी के लिए विख्यात हैं और कई प्रमुख विज्ञापन एजेंसियों के लिए फोटोग्राफी की हैं। उन्होंने वोडाफोन, एलजी इलेक्ट्रॉनिक्स, हीरो मोटर कॉर्प, हॉर्लिक्स जैसे ब्रांडों के लिए छवियां बनाई हैं। टाइम्स ऑफ इंडिया, हिंदुस्तान टाइम्स इत्यादि जैसे प्रमुख समाचार पत्रों ने देश के कई विशाल होर्डिंग और बिलबोर्ड के साथ उनकी तस्वीरों को फ्रंट पेज पर प्रकाशित किया है। उन्होंने दुनिया भर के कई अंतर्राष्ट्रीय मेल और फीमेल मॉडल और उस्ताद अमजद अली खान, शबाना आज़मी, विराट कोहली, एमी जैक्सन, कियारा आडवाणी, सहित विभिन्न बड़ी हस्तियों की तस्वीरों को खींचने का काम किया है। टाइम्स ऑफ इंडिया ने उनके शानदार फोटोग्राफी के काम के लिए उनका एक साक्षात्कार प्रकाशित किया था जिसका शीर्षक था - "फोटोग्राफी का चमकता सितारा" आपको बता दें कि 2009 में, एक फ्रीलांसर के रूप में काम करना शुरू करने वाले वरुण चौहान ने 2014 में, पेपर प्लेन क्रिएटिव के नाम से अपना खुद का प्रोडक्शन हाउस शुरू किया। 2018 में, वरुण चौहान ने कई टीवीसी के लिए एक विज्ञापन फिल्म निदेशक के रूप में शुरुआत की और विभिन्न परियोजनाओं पर एक फोटोग्राफर और निदेशक के रूप में काम करना जारी रखा। नई दिल्ली में जन्मे वरुण चौहान ने अपनी पढ़ाई पूरि करने के बाद पेशे के रूप में फोटोग्राफी लेने से पहले कई वर्षों तक लौह और इस्पात के अपने पिता केे कारोबार में काम करना शुरू कर दिया। जब उनसे यह सवाल किया जाता है कि आप ने पहली बार फोटोग्राफी में रुचि कब ली थी? क्या हुआ और आपने कब फैसला किया कि यह वही था जो आप करने जा रहे थे? तो वरुण कहते हैं "ईमानदारी से यह कभी एक योजना नहीं थी। मैं 2008 में एक सफल मैन्युफैक्चरिंग यूनिट चला रहा था, मैंने अपना पहला डीएसएलआर कैमरा खरीदा। मैंने अपने दोस्तों को फोन किया और कहा "आओ"। मैं हमेशा कुछ रोचक चित्रों के बारे में उत्साहित था और फिर मैं फ्रेम और कलर को समझने लगा। वास्तव में चित्रों के लिए मेरी सराहना की गई थी और हर बार जब मैंने कुछ तस्वीरें शूट कीं तो मुझे लगा कि मैं अपने पिछले फ़ोटो से बेहतर प्रदर्शन कर रहा हूं। इसने मुझे इस हद तक प्रेरित किया कि मैंने अपनी मैन्युफैक्चरिंग यूनिट बंद कर दी और महसूस किया कि मुझे फोटोग्राफी करनी है। मैंने अपने दिल की आवाज़ सुनी। उनकी सबसे बड़ी प्रेरणा क्या है? वह कहते हैं "मुझे लगता है कि मैं उन चीज़ों पर विश्वास करता हूं जो असंभव हैं, यही वह है जो मैं जीता हूं, यही वह चीज है जो मैं जीवित रहने के लिए करता हूं, जो मैं सपना देखता हूं और अपनी आंखों के अंदर देखता हूं और यही वह जगह है जहां मेरी प्रेरणा पैदा होती है और मेरा काम मेरा विकास है एक फोटोग्राफर के रूप में। "उनकी फोटोग्राफी में मुख्य विषय क्या होते हैं? वरुण बताते हैं "मैं वास्तव में किसी भी शैली या विषय के साथ विशेष रूप से काम नहीं करता हूँ। मैं एक विशिष्ट प्रकार की लाइट का उपयोग नहीं करता, मैं हर समय शूटिंग के उसी तरीके का उपयोग नहीं करता हूं। जब मैं चित्रों से बात करता हूं तो मैं पूरी तरह से इसमें हूं, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता। हैरत की बात है कि वरुण चौहान ने कभी फोटोग्राफी की ट्रेनिंग नही ली वह कहते हैं "मैं पूरी तरह से खुद ही सीखा हुआ एक फोटोग्राफर हूँ। अब तक मैंने कोई औपचारिक प्रशिक्षण नहीं लिया है। "

वरुण कंटेंट को ही प्राथमिकता देते हैं वह कहते हैं "मुझे दृढ़ विश्वास है कि एक तस्वीर या फिल्म में सबसे महत्वपूर्ण पहलू कन्टेन्ट है। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि इसे बनाने के लिए किस उपकरण का उपयोग किया जाता है। अब तक मैंने बहुत तरह के कैमरों के साथ काम किया है। लेकिन मैं कभी भी कैमरे या उपकरणों के बारे में चिंतित नहीं रहता हूं, कई बार मैं सिर्फ एक फोन से शूट कर लेता हुँ। कन्टेन्ट ही मेरे लिए सबसे महत्वपूर्ण है।" वरुण के शौक में व्यायाम, मोटरसाइकिलिंग, पढ़ना और फोटोग्राफी, गैजेट्स और तकनीक में नवीनतम प्रयोग के बारे में जानना शामिल है।

2019 में वरुण के कई प्रिंट कम्पैन और ऐड फ़िल्मे आने वाली हैं। अगले साल वह दुनिया भर में खूब यात्रा भी करने वाले हैं।